Custom image

समीपवर्ती महत्वपूर्ण स्थल

 

यह स्थान मेघाहातुबुरु और किरीबुरू लौह अयस्क खदानों के कारण प्रसिद्ध हैं| ये लौह अयस्क खदान नामों से भिन्न लगते हैं, परन्तु ये दोनों समीप और लगभग एक ही हैं| यह आप के लिए उपुक्त जगह हैं  यदि आप घने जंगलो और हरी - भरी वादियों में  भ्रमण के शौकीन हैं | मेघाहातुबुरु की जमीन फौलादी हैं | इसके गर्भ में अकुट लोहा हैं जिसे कई कंपनिया निकाल रही हैं| यह घनी बर्षा वाला क्षेत्र हैं (१२८ सी सी ) पर जंगलो के दोहन से बर्षा दर कम हो गयी हैं | यह झारखंड और ओडीशा की समीप बसा हैं| हिल टॉप ओडीशा में अवस्थित हैं जबकि  मेघहातुबुरु व  किरीबुरू झारखंड में हैं|

२००१ के जनगणना के अनुसार मेघाहातुबुरु के जंगल में बसे गावों की जनसंख्या ६,८७९ हैं जिनमे ५३ % पुरुष और ४७ % महिला हैं|  यहाँ का  साक्षरता दर ७४% हैं जिनमे ८२ % पुरुष और महिला ६६ % हैं| मेघाहातुबुरु के जंगल में बसे गावों में १३% जनसंख्या ६ बर्ष बालो की हैं.