Custom image

प्राचार्य महोदय का संदेश

शिक्षा व्यक्तियों की अव्यक्त प्रतिभाओं की अभिव्यक्ति है| यह मन के एक प्रशिक्षण के बजाय ज्ञान का अधिरोपण है| केंद्रीय विद्यालय संगठन ने शिक्षाविदों के रूप में अच्छी तरह से पाठ्य सह गामी गतिविधियों को भी उत्कृष्टता के साथ अनुसरण किया है।

केंद्रीय विद्यालय मेघाहातुबुरु के छात्र - छात्राओं की विभिन्न क्षेत्रों में बहुमुखी प्रतिभा दर्शाने पर हमे गर्व है। ये सब संगठन के कर्मचारियों, अधिकारीयों, हमारे विद्वान शिक्षकों तथा माता पिता का संयुक्त प्रयास है। जो हमे लगातार सफल बनाता है। ऐसे सहयोग हेतु उन्हें धन्यवाद ज्ञापित करता हूँ|

उठो जागो और तब तक मत रुको

जब तक मंजिल प्राप्त न हो जाये।

- स्वामी विवेकानंद



(सुजीत पॉल तिर्की)

प्राचार्य